WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Bed Course : इन सब महाविद्यालयों में बीएड की मान्यता हुई रद्द, सभी छात्र जल्दी देखें

Bed Course : क्या आप लोग भी एक स्टूडेंट है और आप लोग B.Ed कोर्स करना चाहते हैं तो आप सभी लोगों को हम इस आर्टिकल में जानकारी बता देने वाले हैं कि चार महाविद्यालय में बीएड कोर्स की मान्यता को रद्द कर दिया गया है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

जी हां आप लोग बिल्कुल सही बात सुन पा रहे हैं तो अगर आप लोगों को भी इसके बारे में पूरी जानकारी जानना है तो आप मेरे आर्टिकल पर अंत तक बने रहिए ताकि आप लोग B.Ed से संबंधित सारी जानकारी प्राप्त कर सकेंगे।

Bed Course
Bed Course

Bed Course रद्द पूरी जानकारी देखे

B.Ed कोर्स की मान्यता को आखिर किन महाविद्यालय में रद्द किया गया है इसके बारे में भी पूरी नॉलेज आप सभी लोगों को इस आर्टिकल में बताने वाले हैं उससे पहले आप लोगों को हम नॉलेज बता देना चाहते हैं कि NCERT ने चार महाविद्यालय पर जुर्माना भी लगाया है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

जी हां आप लोग सही सुन पा रहे हैं एनसीईआरटी के द्वारा जब जांच किया हुए तो चार महाविद्यालय B.Ed की मान्यता को फर्जी करार देते हुए और आपको नॉलेज बताना चाहेंगे उनकी मान्यता को रद्द भी करते हुए उन पर ₹300000 का जुर्माना भी लगा दिया गया है।

Bed Course फर्जी तरीके से मान्यता लेने के मामले में हुए कार्रवाई

जी हां आप सभी लोगों को हम नॉलेज बता देना चाहते हैं कि महाराजा सुहेलदेव राज्य विश्वविद्यालय जो है उनसे एफिलिएटिड कर इस महाविद्यालय के खिलाफ फर्जी तरीके से मान्यता लेने के मामले में आप सभी लोगों को बताना चाहूंगा की कार्रवाई भी की गई है बाकी इसके बारे में पूरी नॉलेज नीचे विस्तार से पढ़ सकते हैं।

BEd Course एनसीईआरटी के द्वारा जांच में लगा तीन-तीन लाख रुपए का जुर्माना

एनसीईआरटी जब जांच किया तो इनके जांच में चार महाविद्यालय में जो है वह बीएड की मान्यता को फर्जी करार देते हुए उनकी मान्यता को विरोध करते हुए आप लोगों को बताना चाहूंगा की एनसीईआरटी ने उन पर ₹300000 का जुर्माना भी लगा दिया है और आप लोगों को बताना चाहूंगा कि सभी बच्चों को समायोजित कराया गया है दूसरे महाविद्यालय में

Bed Course से संबंधित अधिक जानकारी देखें

आप सभी लोगों को हम नॉलेज बता देना चाहते हैं कि जनपद में जो महाराजा सुहेलदेव राज्य विश्वविद्यालय स्थापित है उनसे आजमगढ़ और मऊ जिले के कुल जो 438 महाविद्यालय का संबंध है उसके बारे में आप लोगों को बताना चाहूंगा यह महाविद्यालय में 15 सरकारी सहायता प्राप्त गैर सरकारी कॉलेज शामिल हैं ।

और आप लोगों को बताना चाहूंगा कि चार सरकारी कॉलेज और इसके साथ ही आपको बताना चाहूंगा 419 स्व वित्तपोषित कॉलेज भी शामिल है इनमें यानी इसमें आपको बताना चाहूंगा कि इस महाविद्यालय में अलग-अलग स्नातक और स्नाकोत्तर की डिग्री का कार्यक्रम चलता है।

BEd Course की मान्यता फर्जी पाई गई है

आप लोगों को बताना चाहूंगा LLB और LLM जो प्रमुख है , विश्वविद्यालय से संबंधित जो यह महाविद्यालयों है इनमें से कुल 131 महाविद्यालय जो है वह संचालन बीएड कक्षा का करते हैं जिनके बारे में बताना चाहूंगा इनमें कुल जो सीट उपलब्ध है वह 11,650 है

और आपको बताना चाहूंगा इस महाविद्यालयों में संचालित जो चार महाविद्यालयों में आपको बताना चाहूंगा मऊ के जो एक राम लखन पीजी कॉलेज है उनमें जो सीट उपलब्ध है उनकी संख्या 100 है मऊ में सीट उपलब्ध होने की संख्या और आपको बताना चाहूंगा आजमगढ़ में जो बीएड की मान्यता है वह 100 सीटों की बिल्कुल फर्जी पाई गई है।

BEd Course 50-50 सीटों की मान्यता फर्जी पाई गई है

जो ऊपर बताए गए हैं जिनमें 100 सीटों फर्जी पाई गई है उनके बारे में आपको बताना चाहूंगा कि उन महाविद्यालय में B.Ed की कोई भी मानता नहीं थी लेकिन उन विद्यालय के द्वारा B.Ed कक्षा चालू किया गया था ।

उसके बाद आप लोगों को बताना चाहूंगा शेखर सोशल महिला महाविद्यालय एंड एजुकेशनल फाउंडेशन के साथ एक और महाविद्यालय के द्वारा 50 सीटों का जो मानवता है वह सही पाया गया है और आपको बताना चाहूंगा कि जबकि 50- 50 सीटों की को मान्यता है वह फर्जी भी पाई गई है और आपको बताना चाहूंगा यह चार महाविद्यालयों पर बहुत ही बड़ा फैसला लिया गया है।

Leave a Comment